• Tue. May 21st, 2024

प० बंगाल कुल्टी, बराकर तथा नियामतपुर के मारवाड़ी समाज द्वारा सोमवार को शितला माता की पूजा-पाठ की गई।

ByAdmin Office

Apr 2, 2024
Please share this News

 

 

रिपोर्ट सत्येन्द्र यादव

 

कुल्टी, कुल्टी, बराकर तथा नियामतपुर के मारवाड़ी समाज द्वारा सोमवार को शितला माता की पूजा-पाठ की गई। इस त्योहार को मारवाड़ी समाज बासड़ा भी कहते हैं। आज के दिन घर में चुल्हा नहीं धरता हैं। घर की महिलाए शीतला माता की कथा सुनने के बाद घर में बनाये बाजरा के आट्टा तथा दही की रबड़ी मिलाकर बनाया जाता हैं।

गोटा बाजरा का प्रसाद एंव कच्ची हल्दी पिसकर उसका लेप से माता का तिलक किया जाता हैं और अन्य कई प्रकार के पकवान बनाये जाते है। जो शितला माता को चढ़ाने के बाद कुम्हारिन को दिया जाता हैं। माता भरपूर जल चढ़ाया जाता हैं। जिसको लेकर बराकर के हाट तल्ला स्थित शीतला माता के मंदिर में तथा कुल्टी श्रीपुर मोड़ स्थित शितला माता मंदिर में श्रद्धालुओ की अपार भीड़ रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *