• Fri. Jun 14th, 2024

रामटहल चौधरी और रविन्द्र पांडेय कांग्रेस में शामिल,पांडेय धनबाद या गिरिडीह तो चौधरी राँची से लड़ सकते हैं चुनाव

ByAdmin Office

Mar 28, 2024
Please share this News

 

 

कांग्रेस पार्टी झारखंड समेत देश भर में लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों पर मंथन कर रही है. खबर है कि खूंटी, लोहरदगा और हजाराबीग लोकसभा सीट पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा करने के एक दिन बाद गुरुवार (28 मार्च) को पार्टी रांची, धनबाद और गोड्डा के उम्मीदवार का नाम भी फाइनल कर सकती है.

 

झारखंड के कई नेताओं ने दिल्ली में डाला डेरा

 

उम्मीदवारी की दावेदारी के लिए झारखंड के कई नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. सुबोधकांत सहाय एक बार फिर रांची से टिकट लेने की जुगत में भिड़े हैं, तो उनका पत्ता काटकर रामटहल चौधरी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने की कोशिशों में जुटे हैं.इसके लिए राम टहल चौधरी और रविन्द्र पांडेय ने कांग्रेस जॉइन कर लिया है.

 

फुरकान अंसारी तो दिल्ली में डटे ही हैं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्यक्ष रह चुके

 

*अब गिरिडीह या धनबाद से चुनाव लड़ सकते हैं रवींद्र पांडेय*

 

खबर है कि मोदी विरोधी देशव्यापी गठबंधन I.N.D.I.A. के घटक दल झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के खाते में धनबाद सीट जाती है, तो गिरिडीह सीट पर कांग्रेस पार्टी चुनाव लड़ेगी.

 

ऐसे में कांग्रेस पार्टी रवींद्र पांडेय को गिरिडीह से चुनाव के मैदान में उतार सकती है. अगर पार्टी को धनबाद सीट मिली, तो रवींद्र पांडेय वहां से भी चुनाव लड़ सकते हैं.

 

आलाकमान के साथ विमर्श कर रहे झारखंड कांग्रेस के दिग्गज

 

 

उम्मीदवारों के नाम तय करने के लिए कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं के साथ-साथ झारखंड प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता भी दिल्ली में आलाकमान के साथ लगातार विचार-विमर्श कर रहे हैं. अगर 3 सीटों (रांची, गोड्डा और धनबाद) पर उम्मीदवार तय हो जाते हैं, तो झारखंड के संसदीय कार्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता आलमगीर आलम समेत तमाम बड़े कांग्रेस नेता नई दिल्ली से गुरुवार की रात तक रांची लौट आएंगे.

 

उम्मीदवारों की घोषणा नहीं, तो शनिवार को होगी सीईसी की बैठक

 

दूसरी तरफ, अगर किन्हीं कारणों से उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं हो पाई, तो शनिवार को कांग्रेस की सेंट्रल इलेक्शन कमेटी की बैठक होगी. उस बैठक में उम्मीदवारों के नाम पर अंतिम फैसला होगा. सूत्र बता रहे हैं कि जमशेदपुर, पलामू और सिंहभूम सीट पर पेच फंसा है.

 

जमशेदपुर और सिंहभूम सीट पर झामुमो ने की दावेदारी

 

जमशेदपुर और सिंहभूम (एसटी) सीट पर झामुमो ने दावेदारी कर दी है. कांग्रेस इन दोनों सीटों में से मात्र एक सीट झामुमो को देने के लिए तैयार है. लेकिन, झामुमो दोनों सीटें लेने पर अड़ा हुआ है. अगर कोल्हान प्रमंडल की दो अहम सीटें जमशेदपुर और सिंहभूम (एसटी) कांग्रेस के खाते में चली गई, तो लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के खाते में सिर्फ एक सीट आएगी.

 

लालू प्रसाद की पार्टी ने पलामू, चतरा सीट पर ठोंका दावा

 

बता दें कि लालू प्रसाद की पार्टी राजद ने पलामू और चतरा संसदीय सीट पर अपनी दावेदारी कर दी है. माना जा रहा है कि गठबंधन के तहत चतरा सीट राजद को मिल जाएगी, लेकिन पलामू सीट पर अभी तक कोई फैसाल नहीं हो पाया है. ज्ञात हो कि भाकपा माले ने कोडरमा और हजारीबाग सीट पर दावेदारी की थी, लेकिन उसके हिस्से में सिर्फ कोडरमा सीट आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *