• Thu. May 30th, 2024

साहित्य

  • Home
  • कविता:- मां ! तुम मेरी जीत हो !

कविता:- मां ! तुम मेरी जीत हो !

आत्म-कथ्य मैं दिया आर्या , उत्तराखंड के बागेश्वर जिले का निवासी हूँ। मैं अपनी भावनाओं को कविताओं के माध्यम से व्यक्त करती हूं। मुझे लिखना और साहित्यिक पुस्तकें पढ़ना बहुत…

हे प्रभु !अनंत सफर में रखना नेताजी का ख्याल

हे प्रभु !अनंत सफर में रखना नेताजी का ख्याल (नेता जी मुलायम सिंह जी के लिए श्रद्धा के दो शब्द) कवि:- विनोद आनंद हे प्रभु….! जीवन के कठिन सफर को…

राजनीतिक चिंतन: देश की मौजूदा राजनीतिक परिस्थिति में नीतीश कुमार की भूमिका और राहुल गांधी का भविष्य!

राजनीतिक चिंतन: देश की मौजूदा राजनीतिक परिस्थिति में नीतीश कुमार की भूमिका और राहुल गांधी का भविष्य! आलेख:- राजीव कुमार झा बिहार में जदयू के वरिष्ठ नेता और बिहार के…

लेख : देश की स्वतंत्रता की 76 वीं वर्षगांठ और हमारे देश की गरिमा*

*लेख : देश की स्वतंत्रता की 76 वीं वर्षगांठ और हमारे देश की गरिमा* लेख:- राजीव कुमार झा भारत में ब्रिटिश शासन खत्म होने के बाद यहां लोकतांत्रिक शासन की…

कविता:-मिहिर ! अथ कथा सुनाओ…!

कवि परिचय प्रचलित नाम-डॉ.ममता बनर्जी “मंजरी” पति का नाम-श्री स्वपन बनर्जी शिक्षा-स्नातक उम्र-52 वर्ष विद्यावाचस्पति (मानद डॉक्टरेट उपाधि से अलंकृत ) वर्तमान पता- गिरिडीह (झारखण्ड) स्थायी पता-पुरुलिया/दुर्गापुर (प.बंगाल) .छंदबद्ध रचनाओं…

झारखंड की कवयित्री रश्मि शर्मा को मिला छठा शैलप्रिया पुरस्कार

रांची । युवा लेखिका रश्मि शर्मा को शैलप्रिया सम्मान से विभूषित किया गया। प्रसिद्ध आलोचक रवि भूषण ने रांची प्रेस क्लब के सभागार में श्रीमती शर्मा को यह पुरस्कार प्रदान…

29 मार्च, लेखक श्री भवानी प्रसाद मिश्र की आज जयन्ती है, उनकी कविताएं नई शैली और भाव उद्भनाओं के कारण काफी प्रसिद्ध हुए

भवानी प्रसाद मिश्र का (जन्म: 29 मार्च 1914 – मृत्यु:20 फ़रवरी 1985 ) हिन्दी के प्रसिद्ध कवि तथा गांधीवादी विचारक थे। वे ‘दूसरा सप्तक’ के प्रथम कवि हैं। उनका प्रथम…

श्रीमती महादेवी वर्मा जयन्ती 26 मार्च,हिंदी साहित्य की आधुनिक मीरा कहे जाने वाली महान कवयित्री का है आज जन्म दिवस,

प्रख्यात कवयित्री महादेवी वर्मा की गिनती हिन्दी कविता के छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभ सुमित्रानंदन पंत, जयशंकर प्रसाद और सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के साथ की जाती है। होली के…

आज का पंचांग 16 मार्च 2022, बुधवार : आज महेश्‍वर व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और राहु काल कब से कब तक

आज का पंचांग 16 मार्च 2022, बुधवार राष्ट्रीय मिति फाल्गुन 25, शक संवत् 1943, फाल्गुन शुक्ल, त्रयोदशी, बुधवार, विक्रम संवत् 2078। सौर चैत्र मास प्रविष्टे 03, शब्बान 12, हिजरी 1443…

अनिता रश्मि की तीन कविताएं

1:- युद्ध और स्त्री ————– स्त्री के लिए दुनिया वैसी नहीं जैसी वह चाहती रही, सदा रही दुनिया वह जो वह चाह पाती नहीं कभी भी, कहीं भी। युद्ध में…