• Tue. May 21st, 2024

प० बंगाल कुल्टी,133 वीं जयंती पर याद किए गए भारत रत्न’ बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर।

ByAdmin Office

Apr 14, 2024
Please share this News

रिपोर्ट सत्येन्द्र यादव

दलित व पिछड़ों के उत्थान के लिए डॉ. बीआर अंबेडकर एससीएसटी ओबीसी अल्पसंख्यक सोसल वेलफेयर सोसाइटी भी खोला गया

कुलटी, पश्चिम बंगाल आसनसोल नगर निगम वार्ड संख्या 106 के चिनाकुड़ी सोदपुर 9/10 नंबर कोलियरी इलाके मे भारत के संविधान के निर्माता भारत रत्न डॉ. भीमराव अंबेडकर की 133 वीं जयंती मनाई गई, उनके फोटो पर पुष्प गुच्छ चढ़ाकर उनको सम्मान दिया गया, इस मौके पर दलित व पिछड़ों की आवाज उठाने व उनकी आवाजों को बुलंद करने के लिए डॉ. बीआर अंबेडकर एससीएसटी ओबीसी अल्पसंख्यक सोसल वेलफेयर सोसाइटी के नाम से एक संस्था भी खोला गया, जिस संस्था के अध्यक्ष राजनीती पासवान, सेकेट्री राजेश पासवान, वाइस प्रेसिडेंट पप्पू पासवान, ट्रेजरर गौतम पासवान को बनाया गया, जिस संस्था का उद्घाटन बाबा साहब की जयंती पर मुख्य अतिथि के तौर पर पहुँचे तृणमूल के पूर्व पार्षद सह समाज सेवी रोहित नोनिया, पश्चिम बर्धमान जिला चेयरमेन उज्वल चटर्जी ने फीता काटकर किया, इस दौरान अतिथियों को संस्था के पदाधिकारियों ने फूलों का गुलदस्ता देकर सम्मानित किया, जिसके बाद बाबा साहब की याद मे आजादी से जुड़ी गानों को गाकर बाबा साहब की जयंती मे उपस्थित तमाम लोगों के अंदर देश के प्रति ऊर्जा भरने का प्रयास किया गया, वहीं इस कार्यक्रम के दौरान रोहित नोनिया ने कहा दलित परिवार में जन्म लेने के कारण बाबा साहेब अंबेडकर को बचपन से ही जाति को लेकर भेदभाव का सामना करना पड़ा. लेकिन सशक्त शिक्षा के बल पर उन्होंने जाति के बंधन को कमजोर कर दिया. उन्होंने स्वयं तो शिक्षा हासिल की ही. साथ ही दलित, वंचितों, मजदूरों और महिलाओं के साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ खड़े होकर लंबी लड़ाई भी लड़ी, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के अनमोल विचारों से सफल होने और मजबूत बनने की प्रेरणा मिलती है. आप भी उनके विचारों को जीवन में अमल कर अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं, वहीं इस मौके पर तृणमूल नेता बिनोद साव संस्था से जुड़े भोला पासवान, जददू पासवान, मेवालाल पासवान, बिनोद पासवान, चंदन नोनिया सहित कई अन्य गणमान्य व्यक्ति मुख्य

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *