• Tue. Apr 16th, 2024

निष्पक्ष निर्भीक निडर

राजस्थान/ पूर्व सीएम एवं वरिष्ठ नेता अशोक गहलोत का दावा,कांग्रेसी को जांच एजेंसियों का डर दिखा कर किया जा रहा भाजपा में शामिल

ByAdmin Office

Mar 11, 2024
Please share this News

 

जयपुर. कांग्रेस से ‘हाथ’ छुड़ाकर भाजपा में जाने वाले नेताओं को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रतिक्रिया दी है. गहलोत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर पोस्ट कर प्रतिक्रिया दी है. गहलोत ने लिखा कि “केंद्रीय एजेंसियों के दबाव में नेता भाजपा में जा रहे हैं. यह वक्त किसी के दबाव में झुकने का नहीं, संघर्ष का है.

” अशोक गहलोत ने इस पोस्ट में लिखा, “जो नेता कांग्रेस छोड़कर जा रहे हैं. उन्हें कांग्रेस ने पहचान दी, केंद्रीय मंत्री, राज्य में मंत्री बनाया, पार्टी में बड़े पदों पर बैठाया लकिन पार्टी के मुश्किल वक्त में वो पार्टी छोड़कर भाग रहे हैं. कई लोग कह रहे हैं कि उनके ऊपर केंद्रीय एजेंसियों का दबाव है, इसलिए भाजपा में जा रहे हैं.

ये वक्त किसी दबाव के आगे झुकने का नहीं है, बल्कि लोकतंत्र को बचाने और देश के भविष्य के लिए संघर्ष करने का है.”
गांधी परिवार से लेनी चाहिए प्रेरणा : इसी पोस्ट में गहलोत ने आगे लिखा, “हमें गांधी परिवार से प्रेरणा लेनी चाहिए. जिनमें राहुल गांधी एवं पूरे परिवार को कई-कई दिनों तक ED ने पूछताछ के बहाने परेशान किया. उनकी संसद सदस्यता रद्द कर दी.

घर तक खाली करवा दिया पर वो हर दबाव का मुकाबला मजबूती से कर रहे हैं. देशभर में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के माध्यम से अन्याय, महंगाई, नफरत और बेरोजगारी के खिलाफ यात्रा कर जनजागरण का काम कर रहे हैं. राजनीति में मुकाबला इस तरह डटकर किया जाता है.”
कांग्रेस ही कर सकती है मुकाबला : अशोक गहलोत ने अपने इस पोस्ट में आगे लिखा है कि “आज देश में हर संस्थान पर दबाव है और हर व्यक्ति तनाव का माहौल महसूस कर रहा है. इस तनाव और दबाव का मुकाबला करना है. जो सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही कर सकती है. कांग्रेस ही इस देश के लोकतंत्र को मजबूत और सुरक्षित रख सकती है.

खोखली गारंटियों की सच्चाई है पेट्रोल पंप हड़ताल : अशोक गहलोत ने अपने एक दूसरे पोस्ट में लिखा, “आज राजस्थान के सभी पेट्रोल पंपों की हड़ताल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खोखली गारंटियों की असली सच्चाई है. जनता को भ्रमित करने के लिए प्रधानमंत्री ने जनता से असत्य बोला. गहलोत ने कहा कि चुनाव जीतते ही राजस्थान में पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने की गारंटी दी थी. जनता ने उन पर भरोसा कर वोट दे दिया, अब जनता को ना पेट्रोल-डीजल सस्ता मिल रहा है और ना ही कांग्रेस सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है.

पेट्रोल पंपों की हड़ताल से जनता और पंप डीलरों को असुविधा हो रही है. केंद्र और राज्य सरकार को पीएम की गारंटी के अंतर्गत अविलंब दाम कम करने की घोषणा करनी चाहिए. जनता अब इस झांसे में नहीं आएगी और लोकसभा चुनाव में भाजपा को यथोचित जवाब देगी.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *