• Mon. Apr 15th, 2024

निष्पक्ष निर्भीक निडर

सरसों के फसल को बर्बाद किये जाने के विरोध किये जाने पर मां-बेटे के साथ मारपीट।

ByAdmin Office

Mar 9, 2024
Please share this News

 

 

अंतर्कथा प्रतिनिधि

 

 

जमुई झाझा – थानाक्षेत्र अंर्तगत सुंदरीटांड गांव में खेत में लगे सरसों के फसल को बर्बाद किये जाने के विरोध किये जाने पर मां-बेटे के साथ गांव के की आधा दर्जनभर लोगों ने मारपीट की घटना को अंजाम दिया। मारपीट में घायल मां बेटे का इलाज रेफरल अस्पताल में किया गया। घायल की पहचान सुंदरी देवी और उसका पुत्र किशोर कुमार के रूप में हुई है। घायल महिला ने बताया कि मै अपनी बेटी के साथ घर पर बैठी कि तभी गांव के तिलकधारी दास,विशुनदेव दास,धीरज और उसके घर के अन्य सदस्यों ने घर के आगे खेत में लगे सरसों के फसल को बबार्द कर रहा था जिसको विरोध किया तो वे लोग मेरे साथ लाठी डंडा से मारपीट करने लगा। हल्ला सुनकर जब मेरा बेटा मुझको बचाने के लिये पहुंचा तो उसके साथ भी उनलोगों ने मारपीट किया। घायल महिला के द्वारा थाना में मारपीट की सूचना आवेदन के माध्यम से दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *