• Fri. Jun 14th, 2024

महिलाओं के साथ पुरूष भी डांडा पूजन करते हुए सुखमय जीवन की करते है कामना 

ByAdmin Office

Mar 25, 2024
Please share this News

 

 

जमुई झाझा-: होलिका दहन से पूर्व मारवाड़ी समाज के द्वारा अपने पारंपरिक पंरपरा का निर्वहन करते हुए होलिका दहन से पूर्व डांडा पूजन उत्सव मनाई गई। अग्रवाल समाज की महिलाएं सज धज कर गणेशी मंदिर समीप उलाय नदी में पहुंचकर रोली, अक्षत, चावल, अबीर, रंग गुलाल, फल फूल और घरों में बनाए गए पकवानों से विधि विधान से पूजन किया। इस दौरान महिलाओं ने होलिका स्थल की परिक्रमा लगातेे हुए मंगल गीतों का गायन कर सुखमय जीवन की कामना करते हुए होली की खुशियां मनाई। डांडा पूजन करने वाली मारवाड़ी समाज की महिलाएं वार्ड पार्षद पायल शर्मा, सरीता अग्रवाल, नूतन अग्रवाल, अनिता बंका ने बताया कि सबसे पहले भक्त प्रहलाद का प्रतीक मानकर पूजन स्थल पर डांडा रोपण किया जाता है उसके बाद हमलोग एकजुट होकर डांडा पूजन पूरे विधि- विधान के साथ करते है। भगवान नरसिंह और भक्त प्रहलाद का नाम लेकर हमलोग पकवान चढ़ाते है और उसके बाद कच्चा सूत हाथ में लेकर होलिका पर लपेटते हुए परिक्रमा करते और अंतति में गुलाल डालकर हमलोग रोली का तिलक लगाकर इसे पूर्ण संपन्न करते है। अग्रवाल समाज के महामंत्री प्रभाष बंका, प्रकाश रूईया, संजय बंका, अधिवक्ता सुरेश अग्रवाल ने बताया कि डांडा पूजन हमलोगों का पारंपरिक पूजन है। इसमें महिलाओं के साथ पुरूष भी डांडा पूजन करते हुए सुखमय जीवन की कामना करते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *