• Tue. May 21st, 2024

पानी की खोज में जंगल से भाग कर कोटरा कुएं में गिरा ग्रामीण एवं वन कर्मियों ने मिलकर कुएं से निकाल कर नेशनल पार्क में छोड़ा

ByAdmin Office

Apr 5, 2024
Please share this News

 

पंकज ठाकुर

बड़कागांव । बड़कागांव प्रखंड के सिकरी उत्क्रमित हाई स्कूल के बगल में स्थित एक कुएं से जंगली जानवर कोटरा को ग्रामीण एवं वन विभाग कर्मियों द्वारा निकाल कर नेशनल पार्क हजारीबाग में छोड़ गया। ग्रामीणों ने बताया कि गुरुवार की रात सिकरी जंगल से कोटरा गांव की ओर आ गया। सिकरी उत्क्रमित हाई स्कूल के पास एक कुएं में पानी पीने के चक्कर में वह डूब गया।शुक्रवार के अहले सुबह सिकरी निवासी अजबुल मियां की नजर कुएं में डूबे हुए कोटरा पर पड़ी। कोटरा अपनी जान बचाने के लिए पानी में छटपटा रहा था। अजबूल मियां ने गांव वाले को सूचना दिया। तत्पश्चात कृष्ण सिंह वनपाल अजय कुमार यादव को मोबाइल से इसकी जानकारी दी। वन विभाग के कर्मियों व ग्रामीणों द्वारा कोटरा को बड़ी मश्कत से निकाला गया। कुएं से कोटरा को कुएं से निकालने में कृष्णा सिंह, पृथ्वीराज गुप्ता ,प्रदीप राय, जितेंद्र गुप्ता ,आजबुल अंसारी, मनोहर अंसारी, परवेज आलम ,अनुज राम, अशोक महतो ,दौलत महतो ने सहयोग किया। वनपाल अजय कुमार यादव ने बताया कि वन विभाग द्वारा कोटरा को हजारीबाग के नेशनल पार्क में छोड़ दिया गया। ज्ञात हो कि इन दिनों महुआ चुनने को लेकर ग्रामीणों द्वारा जंगल में आग लगा दी जा रही है। वहीं दूसरी ओर भीषण गर्मी में बढ़ोतरी होने के कारण जंगलों में पानी नहीं मिल रहा है। आग की लपटों से बचने एवं पानी की खोज में जंगली पशु-पक्षी गांव की ओर भाग रहे हैं। इसी कर्म में जंगली पशु पक्षियों के साथ अप्रिय घटना घटित हो जा रही है। वन विभाग ने ग्रामीणों से अपील किया है कि जंगली पशु पक्षी गांव में यदि आते हैं तो उन्हें संरक्षण देते हुए वन विभाग को सूचित किया जाए। वन विभाग की टीम पहुंचकर उन्हें सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का काम करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *