• Tue. Jul 23rd, 2024

डीजे की धुन मे जमकर नाचे बाराती! जाम मे फसी एम्बुलेंस ! आखरी फिक्र किसे ?

Byadmin

Nov 29, 2021
Please share this News

‼️” यादों ” की बारात मे दम तोड़ती मानवता ‼️ डीजे की धुन मे जमकर नाचे बाराती! जाम मे फसी एम्बुलेंस ! आखरी फिक्र किसे ?

 

झरिया: हमारे देश मे जहाँ एक तरफ मरीजों की जान बचाने के लिए कई जगह ग्रीन कॉरिडोर बनाया जाता है, ताकि इमरजेंसी मे मरीज को ले जा रही एंबुलेंस आसानी से निकल हॉस्पिटल तक पाहुचा मरीजो की जान बचाई जा सके। हमने कई बार ऐसा नजारा भी देखा है जब राह चलते वाहन चालक एम्बुलेंस के साइरन की आवाज सुनते ही अपनी वाहनों को सड़क किनारे कर देते है ताकि इंसानियत के नाते एम्बुलेंस मे जा रहे मरीज की जान बच जाए। लेकिन झरिया शहर के लक्ष्मनिया मोड़ मे रविवार रात मानवता को शर्मसार करने वाला नजारा दिखा जहाँ कुछ बाराती डीजे के धुन मे इतने मदमस्त थे कि उन्हें जरासा भी अंदाजा नही लगा की उनके इस नाच गान से किसी को परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है। ट्रैफिक जाम की बात तो दूर मदमस्त बारातियों को यह भी नही दिखाई दिया की उनकी इस कारस्तानियों का ख़ामियाजा किसी और को भी भुगतना पड़ सकता है। उन्हें तो बस अपने पाँव थिरकाने से ही मतलब है। जाम मे फसे एम्बुलेंस के ड्राइवर को यह नही समझ आरहा था कि वह अपने वाहन को किस तरफ मोड़े बार बार हॉर्न व सायरन बजा बारातियो से किनारे होने की फरियाद करता रहा ताकि किसी प्रकार जगह निकले ताकि मरीज को हॉस्पिटल तक पोहुचाय जा सके। एम्बुलेंस के ड्राइवर ने बताया कि धनबाद के गांधी नगर के एक मरीज को झरिया के एक निजी हॉस्पिटल पोहुचना है लेकिन पिछले आधे घंटे से इस जाम मे फस कर रह गया हूं। एक तो झरिया मे ट्रैफिक जाम की व्यस्था उसके बाद इन बरातियों के कारण घंटो तक फसे रहना पर मरीज की जान भी चलेजाए लेकिन इन बारातियो के नाच गाने मे कोई विघ्न नही आनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *