• Thu. Nov 30th, 2023

छठ महापर्व पर बिक गए 100 करोड़ के सूप और दउरा, सोने-चांदी के सूप की खूब मांग

ByAdmin Office

Nov 17, 2023
Please share this News

 

*नयी दिल्ली :* सूर्य उपासना के महापर्व छठ पर श्रद्धालु अपने सूप और दउरा को सजाने के लिए हर जतन करने में जुट गए हैं। इस बार पीतल के साथ ही चांदी और सोने के सूप व दउरा व्रतियों की पहली पसंद बने हैं।
छठ पर दो हजार किलो चांदी के सूप और दउरा की खरीद हो चुकी है। सोने के भी करीब 25 करोड़ रुपये के सूप की बिक्री हुई है। इसके साथ ही काशी में तैयार पीतल के सूप से पूर्वी यूपी, बिहार झारखंड में छठ पूजा की जाती है। इस समय बाजारों में पीतल के बर्तनों की मांग बढ़ गई है। बाजार में सूप, परात और पूजा के कलश की बिक्री में तेजी आई है। लगभग 50 टन पीतल के सूप की तीन राज्यों में बिक्री हो चुकी है। काशी के 84 घाट और 63 कुंडों के अलावा वरुणा, गोमती सहित अन्य जगहों पर छठ पूजा की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। अंतिम दिन पूजा के सामान जुटाने के लिए लोगों भीड़ भी बाजार में उमड़ी रही।
बाजार में हैं 20 ग्राम से दो किलो तक चांदी के सूप
उत्तर प्रदेश स्वर्णकार संघ के जिला महामंत्री किशोर सेठ ने बताया कि 20 ग्राम से लेकर दो किलो तक के चांदी के सूप की बिक्री हुई है। पांच किलो तक के दउरा की भी मांग रही है। चांदी के सूप की कीमत 2500 से डेढ़ लाख रुपये तक और दउरा चार लाख रुपये तक में उपलब्ध है। वाराणसी में करीब दो हजार किलो चांदी से सूप, दउरा और थाली का कारोबार छठ पर किया गया है। इसके साथ ही करीब 25 करोड़ रुपये के सोने के सूप, थाली और आभूषण भी बिक गए।
मार्केट में छठी मईया की बनी तस्वीर वाली पीतल के सूप
चौक के पीतल कारोबारी अनिल कसेरा ने बताया कि पीतल के सूप का विशेष रूप से काफी डिमांड है। इसके अलावा, पीतल का दउरा, कठौती, छिलनी, लक्ष्मी-विष्णु भगवान की मूर्ति समेत अन्य चीजों की डिमांड छठ पर्व के दौरान बढ़ जाती है। पीतल के सूप में छठ मैया की तस्वीर बनी हुई है। इसकी मांग ज्यादा है। इस बार बाजार में दउरा भी पीतल का आने लगा है। इसकी भी डिमांड है, लेकिन लोग अपने बजट के अनुसार ही इसकी खरीदारी करते हैं। इसकी शुरुआती कीमत 2500 रुपये से लेकर 5000 रुपये तक है। गंगाजल लाने के लिए पीतल की बाल्टी भी खरीदी जा रही है।
*20 गुना बढ़ी फलों की मांग, 50 करोड़ से ज्यादा का कारोबार*
छठ की पूजा के लिए फलों की मांग 20 गुना तक बढ़ गई है। मंडी में अलग अलग फलों की 600 गाड़ियां बृहस्पतिवार को पहुंचीं। इसमें 150 गाड़ी केला, 70 गाड़ी सेब, 100 गाड़ी अनन्नास, 30 गाड़ी नारियल, 70 गाड़ी अनार, 10 गाड़ी अंगूर, 25 गाड़ी चकोतरा, 30 गाड़ी गन्ना सहित अन्य फलों की गाड़ियां शामिल हैं। मंडी समिति के कारोबारी संतोष सिंह ने बताया कि छठ पूजा के लिए फल व सब्जी का करीब 50 करोड़ रुपये के कारोबार की उम्मीद है।
*बाजार एक नजर में*
चांदी के सूप व दउरा- 20 करोड़
सोने के सूप व आभूषण- 25 करोड़
पीतल के सूप, परात व सामान- 20 करोड़
पूजा सामग्री व साड़ी – 25 करोड़
बांस के सूप और दउरा- 5 से 7 करोड़
फल व सब्जी की बिक्री – 50 करोड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *