• Mon. Jul 22nd, 2024

चिरकुंडा शहरी जलापूर्ति पूरी तरह से ठप,लोगो मे काफी रोष

Byadmin

Oct 31, 2021
Please share this News

निरसा।डीवीसी द्वारा बिजली बिल बकाया होने के कारण चिरकुंडा शहरी जलापूर्ति योजना का बिजली काट दिए जाने से पूरे नप क्षेत्र में जलापूर्ति ठप हो गया है । दीपावली व छठ पर्व से पूर्व जलापूर्ति ठप होने से क्षेत्र के लोगों में आक्रोश देखा जा रहा है।

जानकारी के अनुसार मैथन डैम से वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक जो पानी आता है उसका बिजली कनेक्शन डीवीसी द्वारा दिया गया है जिसका प्रतिमाह औसतन दो लाख रुपए बिजली बिल आता है।

बिजली बिल बकाया मद में लगभग 20 लाख रुपए बकाया है। बिजली काटे जाने के बाद से नगर परिषद के द्वारा पुनः बिजली कनेक्शन चालू किये जाने को लेकर कार्यालय स्तर पर प्रयास किया जा रहा है लेकिन समाचार लिखे जाने तक सफलता नहीं मिला है ।

नगर परिषद के अधिकारी के द्वारा मैथन डीवीसी अधिकारी से संपर्क साधा गया लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है । उसके बाद नप के ईओ अरुण कुमार भारती व सिटी मैनेजर मुकेश निरंजन ने डीवीसी के कोलकाता स्थित कार्यालय में कॉमर्शियल विभाग में संपर्क साधा है ।

डीवीसी द्वारा बकाया भुगतान को ले लिखित देने के लिए कहे जाने पर नप द्वारा अंडरटेकिंग दिया गया है कि 13 नवंबर तक बकाया राशि का भुगतान कर दिया जाएगा इसके बावजूद अबतक बिजली चालू नहीं किया गया है । विदित हो कि जलापूर्ति की समस्या को लेकर ही पार्षद एकता मंच ने 30 अक्टूबर को धरना देने की बात कही थी और उसी आलोक में कल ही ईओ के साथ पार्षदों के बैठक में ईओ ने आश्वस्त किया था कि क्षेत्र के लोगों को नियमित रूप से पानी मिलेगा लेकिन डीवीसी द्वारा बिजली काट दिए जाने के कारण जलापूर्ति ही ठप हो गया है ।

सिटी मैनेजर मुकेश निरंजन ने बताया कि डीवीसी के मैथन से लेकर कोलकाता कार्यालय तक गंभीरता पूर्वक प्रयास किया जा रहा है । कॉमर्शियल विभाग को मेल के माध्यम से सूचित किया गया है कि 13 नवंबर तक बकाया भुगतान कर दिया जाएगा। कहा कि संभावना है कि जल्द ही डीवीसी द्वारा बिजली चालू कर दिया जाएगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *