• Tue. Apr 16th, 2024

निष्पक्ष निर्भीक निडर

आदिवासी समाज के सबसे बड़े पर्व सोहराय की पूरे राज्य में धूम,अनाज संग की पुजा करते लोग।

ByAdmin Office

Feb 9, 2024
Please share this News

 

अंतर्कथा प्रतिनिधि

साहेबगंज/बरहरवा -: आदिवासी समाज के सबसे बड़े पर्व सोहराय की पूरे राज्य में धूम है। आपको बताते चले कि जिले के लगभग हर प्रखंड के साथ ही साथ देश के हर क्षेत्र में आदिवासी जनजाति समूह के लोग अपने सबसे बड़े त्योहार सोहराय पर्व को जिसमे अन्न और गऊ को मान्यता देकर मनाया जाता है। 6 दिनो का होने वाला ये त्योहार आदिवासी समाज का सबसे बड़ा पर्व माना जाता है। उस गऊ माता समेत सारे जानवरों को पूजते हैं जिनके मेहनत से हमे अन्न मिलता है और हम उस अन्न से अपना पेट भरते है। ये त्योहार अन्न देवता और उनकी उत्पत्ति करने वाले को हम पूजते हैं। ये धरती प्राकृतिक रूप से जुड़ा हुआ है ,आज लोग अपनी प्रकृति के दिए हुए खजाने को
अपने दिए हुए पेड़ पौधे और जल को भूलकर सिर्फ और सिर्फ अपनी आसान सी सुविधाएं को पाने के लिए अपनी इस प्रकृति ने जो दिया उसे भूल जाते हैं। हम आदिवासी समाज के लोग अपनी धरोहर को बचाने के लिए हर वर्ष इस त्योहार को मनाते है इसमे अपनी प्रकृति और पर्यावरण संरक्षण को लेकर उनसे जुड़े हर चीज कि पूजा को धूम धाम से मनाते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *