• Mon. Jul 22nd, 2024

आज विशेष

Byadmin

Dec 24, 2021
Please share this News

विजय श्री हिंदू पंचांग-24.12.2021

शुभ शुक्रवार शुभ प्रभात् 

खाली पड़ी तिजोरी में करे ये उपाय, नहीं होगी कभी धन की कमी… जानिए!

अक्सर पैसा, रुपया तथा स्वर्ण आभूषण आदि रखने के लिए तिजोरी का उपयोग किया जाता है।

अक्सर पैसा, रुपया तथा स्वर्ण आभूषण आदि रखने के लिए तिजोरी का उपयोग किया जाता है। इसलिए माना जाता है कि तिजोरी बहुत ही महत्वपूर्ण वस्तु है। हमारे वास्तु शास्त्र में तिजोरी को रखने के संबंध में कई जानकारियां मौजूद है। साथ ही तिजोरी में कुछ ऐसी चीजों को रखने के संबंध में बताया गया है जो धन के बराबर ही महत्वपूर्ण है। इन चीजों को तिजोरी में रखने से धन कभी समाप्त नहीं होता है।

श्रीफल

कहा गया है कि श्रीफल को किसी शुभ मुहूर्त में लाल कपड़े में बांधकर, कपूर तथा लॉन्ग चढ़ाकर दीप से पूजा करें। इसके पश्चात उस श्रीफल को अपनी तिजोरी में रखें। ऐसा करने से धन का आगमन होता है।

मोती शंख

बताया गया है कि होली के दिन गुलाल से भरे पैकेट में मोती शंख और चांदी का सिक्का डालकर लाल महोली से कपड़े को बांधे। ऐसा करने पर व्यवसाय में लाभ होता है।

पूजा की सुपारी

सुपारी को पूजा के समय गौरी गणेश का स्वरूप माना जाता है। इसलिए इस सुपारी को लेकर उसने जनेऊ चढ़ाएं और पूजा कर इसे अपनी तिजोरी में स्थापित कर दें। ऐसा करने से तिजोरी में धन की कमी नहीं होती है।

काली गुंजा

धन संपदा के लिए काली गुंजा के 11 दाने लेकर तिजोरी के नीचे या अंदर रख दे। साथ ही तिजोरी में हमेशा लाल वस्त्र बिछाकर रखें।

बताया गया है की शुक्रवार के दिन पीले कपड़े में थोड़ी सी केसर, चांदी का सिक्का, हल्दी की गांठ है को बांधकर सदैव हमें तिजोरी में रखना चाहिए। ऐसा करने पर धन समृद्धि के रास्ते खुलते हैं।

श्री यंत्र

ऐश्वर्या वृद्धि यंत्र या धनदा यंत्र में से किसी एक यंत्र को लेकर तिजोरी मे रखना चाहिए। ऐसा करने पर तिजोरी कभी खाली नहीं होती है और धन बढ़ता है।

दस रुपए के नोट

बताया गया है कि हमें अपनी तिजोरी में 10 10 के नोट की एक गड्डी अवश्य रखनी चाहिए। साथ ही पीतल और तांबे के सिक्को को रखना शुभ माना गया है।

शंखपुष्पी

पुष्य नक्षत्र शंखपुष्पी की जड़ लाकर देवी देवताओं की भांति पूजा करें। इसके पश्चात उसे चांदी की डिब्बी में रखकर तिजोरी या पैसा रखने के स्थान पर रख दें। यह माता लक्ष्मी की कृपा पाने का सरल उपाय है।

पीपल का पत्ता

शनिवार के दिन पीपल के पत्ते पर घी मिश्रित लाल सिंदूर से ओम बनाएं और तिजोरी में रखें। यह क्रम 5 शनिवार तक करना चाहिए। ऐसा करने पर धान की कमी दूर होगी।

बहेड़ा की जड़

रवि या पुष्य नक्षत्र के दिन बहेड़ा कीचड़ लाए और उसकी पूजा करें। इसके पश्चात उसे लाल वस्त्र में बांधकर तिजोरी या भंडार गृह में रखें। ऐसे में आपकी समृद्धि बढ़ेगी..

विशेष सूचना

विशेष-प्रदत्त जानकारी व परामर्श शास्त्र सम्मत् दृष्टिकोण की अभिव्यक्ति मात्र है कोई भी कार्य अपना विवेक सम्मत् निर्णय लेकर ही करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *