• Tue. Jul 23rd, 2024

आंखद्वारा पंचायत के पूर्व मुखिया पर पीसीसी सड़क निर्माण के नाम पर पैसे हड़पने का आरोप,ग्रामिणों किया कार्रवाई की मांग

Byadmin

Jan 6, 2022
Please share this News

रिपोर्ट –नरेश विश्वकर्मा (निरसा )

अंखद्वारा पंचायत के बड़मुड़ी गांव के टोला कोड़ा डंगाल में अर्जुन रवानी के
घर से हरिमंदिर तक पंद्रहवी वित्त योजना के तहत पीसीसी पथ बनाना था लेकिन इसके लिए प्राक्कलित राशि का ना तो उपयोग हुआ और नही पीसीसी पथ का निर्माण हुआ।

ग्रामीणों का आरोप है कि इस में स्वीकृत दो लाख उनचास हजार रूपये का पूर्व मुखिया सष्टी पद सिंह ने कहाँ उपयोग किया इसका जवाब देना चाहिए।

ग्रामीणों ने बताया कि योजना स्थल पर अंखडुवारा के बड़मुड़ी गांव टोला कोड़ा डंगाल में जब
ग्रामीणों ने लेकर पीसीसी पथ निर्माण स्थल पहुंचा तो देखा की उस स्थल पर कोई पीसीसी सड़क का निर्माण कार्य नहीं हुआ है। वह स्थल मिट्टी और धूल से खाली मिला हुआ है ।जिसके नाम पर यह योजना संख्या-01/21/22 है जो कि यह पंद्रहवी
वित्त योजना के तहत काम किया जाना था ।

इस पीसीसी सड़क बनाने के लिये अध्यक्ष–तारा देवी सचिव –लखी रवानी के नाम से यह योजना पास किया गया था /जब इस सम्बन्ध में दोनों सचिव अध्यक्ष से पूछा गया तो उन्होंने बताया की यहाँ पर सड़क तो दूर की बात है यहाँ पर देखिये सड़क बना है । तो मिटटी रहता
जब ग्रामीणों ने पंचायत सचिव शिवलाल महतो से पूछा तो उन्होंने कहा की
पूर्व मुखिया ने मुझे कहा की हम सड़क के पास मेट्रियल गिरा लिए है । काम हो जायगा लेकिन पूर्व मुखिया कभी स्थल पर नहीं ले गया है । आज मुझे जब पता
चला की तो देखा की कोड़ा डंगाल में कोई पीसीसी सड़क निर्माण नहीं हुआ है।यहाँ तो मिटटी भरा रास्ता है । पंचायत सचिव ने कहा की वह पूर्व मुखिया
सष्टि पद सिंह ने इसका प्रकलन राशि दो लाख उठा चूका है और अभी उन्चास
हजार राशि उठाना बाकी है जिसे हमने रोक दिया है और इस सम्बन्ध में उन्होंने केलियासोल प्रखंड के बीडीओ रेणुका को इसका लिखित शिकायत करेंगे
सचिव ने यह भी कहा है की इसके पहले बीडीओ रेणुका कुमारी ने हमें एक सेट
निर्माण में गड़बड़ी का शिकायत के लिये जाँच के लिए दिया गया है । जाँच में उन्होंने यह भी पाया की अंखद्वारा में कोई सेट निर्माण नहीं हुआ है । इसका भी पैसा बंदरबाट किया है ।पूर्व मुखिया सष्टि पद सिंह को मुखिया प्रधान
पद से हटाया दिया गया है । पद से हटाने का मुख्य उदेश्य कुछ दिन पहले कालुबथान पुलिस ने पाइप चोरी को लेकर उसे जेल भेजा था । जिसके चलते
उपायुक्त महोदय ने संविधान के तहत उसे मुखिया प्रधान कार्य से हटा दिया।

उसके बदले में मुखिया प्रधान के रूप में उसी पंचायत के रहने वाले
आनंद खेमोराई को इसका कार्यभार दिया गया है। अभी तत्कालीन मुखिया प्रधान
आनंद खेमोराई ने जब बड़मुड़ी के गांव के कोड़ा डंगाल टोला में गया तो देखा
की उस स्थल पर कोई पीसीसी सड़क का निर्माण कार्य नहीं हुआ है । उन्होंने यह भी बताया की जब पूर्व मुखिया प्रधान ने इस योजना के तहत बकाया राशि का
मुझसे जिक्र किया तो हमने कहा की जिस जगह में पीसीसी सड़क का निर्माण हुआ
है यह नहीं देखने के बाद ही आपका बकाया राशि मिलेगा लेकिन यहाँ पर आने पर
पता चला की जिस स्थल के नाम से योजना दिया गया है उस जगह पर काम नहीं हुआ है और यहाँ पर जो सचिव और अध्यक्ष के नाम से काम लिया गया है उसने
यह इंकार किया है की हमलोग के यहाँ कोई पीसीसी सड़क बना नहीं है । सभी कोड़ा
डंगाल के महिला और पूर्व पंचायत समिति सजल दत्ता ने कहा ऐसे मुखिया पर
कड़ी करवाई होना चाहिये जो एक गरीब महिला के नाम से योजना का काम लेकर
उसके नाम से रुपया निकाल कर खा जाना और गरीब महिला को फ़साने का काम कर
रहा है ।

उन्होंने यह भी कहा की अगर केलियासोल प्रखंड के बीडीओ इस पीसीसी सड़क के घोटाले पर ध्यान नहीं दिया तो हमलोग सभी ग्रामीण तथा अभी वर्तमान
मुखिया को लेकर इसका शिकायत डीसी को करेंगे । इस सम्बन्ध में मिडिया ने
केलियासोल बीडीओ रेणुका कुमारी से जब दूरभाष -से द्वारा व बात किया तो उन्होंने कहा कि उस स्थल का हम निरिक्षण करंगे अगर सही से अंखद्वारा
पंचायत में जो भी काम किया गया है तो जाँच में अधिकतर घोटाला के रूप में
ही मिलेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *